Tuesday, 27 March 2018

guru par vishwas

       
                                             \\   राधा स्वामी \\

                          जीवन की चेतन हो तुम तो ,मन का एक विराम
                          हृदय को जो प्रफ़ुल्लित कर दे ,ऐसा तेरा नाम
                          गुरु जी ------------\------------------\

               

                           मन पावन जीवन पावन, ऐसी दी हैं राह
                           सुखमय हो जीवन उसका,जो अपना ले एक बार 
                           गुरु जी  --------------\-----------------\


                         जग की माया झूठी जांनू, इसमें तड़पन हैं अंधकार 
                        झोड़ दे सारे मोह की गठरी ,कर ले सुमिरन आज 
                        गुरु जी ऐसा तेरा नाम -------\-----------------\
              


                      योग ना जानु जोग ना जानु ,ना जानु व्यभिचार 
                      मुझको अपना लो मेरे बाबा ,लोआ गई तेरे द्वार 
                       गुरु जी ---------------\--\----------------------\
                     
                      जीवन की चेतन हो तुम तो, मन का एक विराम 
                       ----------------\----------------😊😊😊😊😊😊😊😊😊😊
                      🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏downlod

4 comments:

Unknown said...
This comment has been removed by a blog administrator.
Manisha Chaubey said...

Very nice all the best

Unknown said...

Bahot acche .keep it up . All the best for next one.

Unknown said...

All the best 🎅

9svini.com

तन और आँच

                           त न  और  आँच  सर्दी  की   निष्ठुरता  ने,  अंग  को  मेरे  जमा  दिया           रक्त  सुख  कर  बर्फ  ब...